पायलट का केंद्र पर वार, कहा-सरकार के पास अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने की कोई योजना नहीं

कोरोना काल में प्रभावित हुई अर्थव्यवस्था को लेकर राजस्थान के पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने केंद्र पर हमला बोलते हुए सरकार के पास अर्थव्यवस्था को फिर से पटरी पर लाने के लिए कोई खाका तैयार नहीं है। इसके साथ ही उन्होंने सरकार से अर्थव्यवस्था को लेकर सर्वदलीय बैठक बुलाने को कहा।
पायलट ने संवाददाताओं से कहा, "मैं बहुत चिंतित हूं। सबको मालूम है कि अर्थव्यवस्था में गिरावट तो हो रही है लेकिन चिंता मुझे इस बात की है कि गिरावट रूकने के बाद एक अर्थव्यवस्था को पुनर्जीवित करने के लिए केंद्र सरकार के पास कोई रोड मैप तैयार नहीं है।" 
उन्होंने कहा कि अभी तक सिर्फ घोषणाएं हो रही हैं। इतने महीने निकल गए। प्रोत्साहन की घोषणाएं वित्तमंत्री ने कीं लेकिन धरातल पर छोटे उद्योगपतियों को, कारखाने चलाने वालों को, मध्यमवर्ग और वेतनभोगी श्रेणी के लोगों को आर्थिक मदद नहीं पहुंच रही है। 
उन्होंने कहा कि सकल घरेलू उत्पाद यानी जीडीपी के आंकड़े बहुत चौंकाने वाले हैं लेकिन इसके भविष्य की जो कार्ययोजना है उसके बारे में केंद्र सरकार को है न तो चिंता है और न ही उसने कोई ठोस नीति अभी तक बनाई है। उन्होंने कहा कि अर्थव्यवस्था में सुधार के लिए सरकार को एक सर्वदलीय बैठक बुलानी चाहिए और अर्थव्यवस्था को पुर्नजीवित करने के लिए क्या कर सकते हैं इस पर सबकी राय लेनी चाहिए। 
आगामी संसद सत्र के दौरान प्रश्नकाल नहीं होने पर उन्होंने कहा कि सवाल पूछना सबसे बड़ा अधिकार होता है एक सांसद का.. आप उसको छीन रहे हैं तो फिर संसद चलाने का मतलब क्या है। संसद के सत्र में प्रश्न काल नहीं करवाने का सरकार का यह गलत निर्णय है, सरकार को पुनर्विचार करना चाहिए।


Category : Uncategorized

Comments

Popular posts from this blog

Corona Virus Live Updates : चीन में अब तक 2700 से ज्यादा की मौत

Andhiyon Ko Zid Hai Jahan Bijli Girane Ki!!