कोरोना में बढ़ा बच्चों पर परीक्षा का तनाव-अभिभावक मनोबल बढ़ाए|

कोरोना काल में सबसे अधिक तनाव बच्चों पर बढ़ा है, बच्चों पर दोहरा तनाव वाला साबित हो रहा समय, अभिभावक अपने बच्चों का इन तरीकों से बढ़ाए मनोबल, अभिभावक बेहतर प्रधर्शन के लिए बच्चों पर दबाव न डाले |

नमस्कार दोस्तों-Result Uniraj टीम आपको इस पेज में कोरोना काल में बच्चों बढ़े परीक्षा के तनाव के बारे में सम्पूर्ण जानकारी बताएगी | कोरोना संक्रमण की वजह से हर कोई प्रभावित हुआ है | चाहे मजदुर, किसान, व्यवसाय करने वाला, प्राइवेट नौकरी करने वाला हो | इसके अलावा भी एक वर्ग ऐसा भी है, जिस पर दोहरी मार पड़ी, वे है-विधार्थी |

कोरोना की वजह से सभी स्कूल, कॉलेज व कोचिंग संस्थान बंद कर दी गई थी | बोर्ड की परीक्षाओं के अलावा सभी कक्षाओं के बच्चों को बिना परीक्षा ही अगली कक्षा में प्रमोट करना पड़ा था | इसके अलावा कॉलजों एवं विश्वविधालयों में भी छात्रों को बिना परीक्षा ही प्रमोट किया गया है |

केवल अंतिम वर्ष को छोड़कर | अंतिम वर्ष या फाइनल सेमेस्टर की परीक्षाएं सितम्बर-अक्टूबर माह में ऑनलाइन/ ऑफलाइन माध्यम से आयोजित करवाई जाएँगी | इस कोरोना काल में बच्चों पर परीक्षा का तनाव बहुत बढ़ा है |

कॉलेज परीक्षा में सेक्शन की बाध्यता नहीं-केवल 60 फीसदी अंको के प्रश्न ही करने होंगे| 21 सितम्बर से स्कूल खोलने की तैयारी-स्कूल बच्चों को बुलाने को आतुर क्यों?
छात्रों की माँग-कोचिंग संस्थान वापस लौटाए फीस:हाईकोर्ट में लगाई याचिका कॉलेज और प्रतियोगिता परीक्षाओं की तिथि टकराई-परीक्षार्थी असमंजस में|

साथ में अभिभावक भी अपने बच्चों पर अच्छा प्रदर्शन करने का दवाब डाल रहे है | इससे कई ऐसे मामले भी सुनने को मिले है, कि बच्चा अधिक तनाव के कारण अवसाद में चला गया था | इसलिए बच्चों पर अधिक दबाव नहीं डाले | अधिक जानकारी के लिए आप इस पेज को आखिर तक जरूर पढ़े |

कोरोना के दौरान बच्चों पर बढ़ा परीक्षा का तनाव-

कोरोना काल में परीक्षाओं या फिर आगे की पढ़ाई को लेकर आपका बच्चा तो कहीं तनाव में नहीं जा रहा है | इस दौरान कुछ ऐसे मामले भी सामने आये है,कि अभिभावक अपने बच्चो पर परीक्षा में बेहतर प्रदर्शन करने को लेकर दबाव डाल रहे हो या फिर बच्चा खुद इस बात से ज्यादा दुखी हो गया हो कि अगर परीक्षा में अच्छे अंक नहीं मिले तो क्या होगा |

मनोरोग विशेषज्ञों का कहना है, कि यह वक्त बच्चों पर परीक्षा में बेहतर प्रधर्शन, सफल लोगो से तुलना या उन्हें भविष्य को लेकर ठोस निर्णय लेने का दबाव डालने का नहीं है, बल्कि उन्हे भावात्मक समर्थन और भरौसा देने का है | इसलिए आप भी अपने बच्चों के साथ समय बिताये और उन्हें भरौसा दिलाएं कि इस बार तो कोरोना का प्रभाव सभी लोगो पर पड़ा है |

आप कोरोना काल से पहले जिस तरह पढ़ाई करते थे,वैसे ही अपनी पढ़ाई करते रहे | आपको परीक्षा को लेकर अधिक तनाव लेने की जरूरत नहीं है | इसबार कम अंक आये तो कोई बात नहीं, अगली बार अच्छे अंक आ जायेंगे | अभिभावको से निवेदन है,कि आप सुबह-शाम थोड़ा समय अपने बच्चों के साथ जरूर बिताये |

अभिभावकों को अपने बच्चों का ऐसे मनोबल बढ़ाना आवशयक-

यहाँ इस पैराग्राफ में हमारी टीम आपको बच्चों का मनोबल किस प्रकार से बढ़ाया जा सकता है | उसके बारे में कुछ बिन्दु आपके साथ साझा कर रही है |आप भी अपने बच्चों का मनोबल जरूर बढ़ाए,जिससे आपका बच्चा तनाव में न रहे |

Driving License Lost 2020 Top 10 distance MBA Colleges in India
राजस्थान सरकार ने कहा अंतिम वर्ष परीक्षाएं ऑफलाइन मोड में होंगी-छात्रों को मिलेगा विशेष परीक्षा का मौका रीट में NCTE का पाठ्यक्रम-कॉमर्स के विधार्थियों को सम्मिलित किया जायेगा |
  • आपका बच्चा अगर तनाव में है, तो आप उससे बात करे और उसकी मनोस्थिति को समझने की कोशिश करे |
  • दूसरे बच्चों से तुलना कर दबाव न डाले और भविष्य के बारे में तुरंत निर्णय लेने को न कहे |
  • बच्चो में चिड़चिड़ापन भी तनाव का लक्षण हो सकता है,इसलिए आप इन लक्षणों को कभी भी नजरंदाज न करे |
  • आप अपने बच्चों की शिक्षकों और मनोचिकित्स्कों के जरिये काउन्सलिंग कराए |
  • अभिभावक अपने बच्चों के साथ बैठकर उनको दिनभर का लक्ष्य तय कराए जैसे -वह कौनसा विषय तैयार कर रहा है |इसके अलावा कौनसे टॉपिक पर उसको शिक्षक या अपने दोस्तों से सलाह लेनी है | कब उनको मनोरंजन करना है या फिर कब आराम करना आदि |
  • आप उनको यह भी बताए कि उनपर ज्यादा नंबर लाने जैसे कोई बोझ नहीं डाल रहे हो |
  • अभिभावक अपने बच्चो को बताए लॉकडाउन व स्कूलबंदी का असर उनके दोस्तों पर भी पड़ रहा होगा, इसलिए वे इस डर को अपने ऊपर हावी नहीं होने देवे |

नोट-अगर आपको हमारी टीम द्वारा द्वारा दी जानकारी अच्छी लगी हो तो, आप इस सूचना को अपने मित्रो या सोशल मीडिया (वाट्सअप, फेसबुक) पर जरूर शेयर करे, क्योंकि हो सकता है इस सूचना को पढ़कर कोई छात्र अपने तनाव को कम कर सके | आपके मन में भी अपने भविष्य को लेकर कोई गलत खयाल आ रहे हो तो, हमारी टीम के साथ जरूर शेयर करे, हो सकता है कि कम आपको कोई अच्छी राय दे सके-धन्यवाद

The post कोरोना में बढ़ा बच्चों पर परीक्षा का तनाव-अभिभावक मनोबल बढ़ाए| appeared first on Result Uniraj 2020 – University Result & Recruitment News.



Category : bachhe apne tanav ko kam kare,corona news,kaise badha bachho par tanav,Latest News Update,resultuniraj

Comments

Popular posts from this blog

Corona Virus Live Updates : चीन में अब तक 2700 से ज्यादा की मौत

Andhiyon Ko Zid Hai Jahan Bijli Girane Ki!!