प्रश्नकाल निलंबित के फैसले पर बसपा सांसद ने सरकार की आलोचना, कहा- यह नए भारत की ‘डरावनी तस्वीर’ है

बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के सांसद कुंवर दानिश अली ने संसद के आगामी मानसून सत्र में प्रश्नकाल निलंबित किए जाने के फैसले को लेकर सरकार की आलोचना करते हुए बृहस्पतिवार को आरोप लगाया कि यह नए भारत की 'डरावनी तस्वीर' है।
उन्होंने ट्वीट किया, ''ट्वीट करें तो अवमानना…, सड़क पर सवाल करें तो देशद्रोह… । देश की सबसे बड़ी पंचायत बची थी जनता के सवालों को उठाने के लिए। लेकिन वहां सरकार ने प्रश्नकाल ही ख़त्म कर दिया। 'ना रहेगा बांस, ना बजेगी बांसुरी'। यह है 'नए भारत की डरावनी तस्वीर'!''
गौरतलब है कि संसद के आगामी मानसून सत्र में न तो प्रश्नकाल होगा और न ही गैर सरकारी विधेयक लाए जा सकेंगे। कोरोना वायरस महामारी के इस दौर में पैदा हुई असाधारण परिस्थितियों के बीच होने जा रहे इस सत्र में शून्यकाल को भी सीमित कर दिया गया है।
लोकसभा और राज्यसभा सचिवालय की ओर से जारी अधिसूचना के मुताबिक, दोनों सदनों की कार्यवाही अलग-अलग पालियों में सुबह नौ बजे से एक बजे तक और तीन बजे से सात बजे तक चलेगी। शनिवार तथा रविवार को भी संसद की कार्यवाही जारी रहेगी। संसद सत्र की शुरुआत 14 सितम्बर को होगी और इसका समापन एक अक्टूबर को प्रस्तावित है। 


Category : Uncategorized

Comments

Popular posts from this blog

Corona Virus Live Updates : चीन में अब तक 2700 से ज्यादा की मौत

Andhiyon Ko Zid Hai Jahan Bijli Girane Ki!!